Pm narendra modi ko mile tohphe honge nilaam

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले तोहफे होंगे नीलाम, आप भी खरीद सकते हैं जानें कैसे

पिछले 4 साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जो तोहफे मिले हैं, उनकी ऑनलाइन नीलामी होने जा रही है। 2014 में प्रधानमंत्री बने मोदी को अब तक देश-विदेश से करीब 1900 तोहफे मिले हैं। इन सभी को ई-ऑक्शन के साथ बेचने की तैयारी पूरी कर ली गई है।

तोहफों में प्रधानमंत्री जी को मिली पगड़ियां, हाफ जैकेट, पेंटिंग्स और धनुष जैस उत्पाद शामिल हैं। धागे से बनी फ्रेम पेंटिंग, हनुमान जी की गदा और सरदार पटेल की मेटैलिक मूर्ति शामिल है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले तोहफों की नीलामी दिसंबर के दूसरे हफ्ते में शुरू होगी। ऑनलाइन नीलामी की तैयारी पूरी हो गई है। हालांकि इसकी पूरी जानकारी जल्द पीएमओ अपनी वेबसाइट पर जारी करने वाला है।

देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब प्रधानमंत्री को मिले तोहफे की नीलामी हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी को मिले तोहफों को खरीदने के लिए आपको openauction।gov।in पर बोली लगानी होगी।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने इन तोहफों का बेस प्राइस तय कर दिया है। सोशल मीडिया ट्रेंड के मुताबिक, प्रधानमंत्री को मिली पगड़ियां, शॉल और पेंटिंग की सबसे ज्यादा मांग हो सकती है। क्योंकि, अक्सर लोग सोशल मीडिया के जरिए पीएम मोदी से इसकी मांग कर चुके हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने आज तक जो पगड़ियां पहनी हैं, उनकी नीलामी होगी। नीलामी में बेस प्राइस से शुरुआत होगी। पगड़ियों की नीलामी 800 रुपये के बेस प्राइस से शुरू होगी। वहीं, शॉल का बेस प्राइस 500 रुपये तय किया गया है। पेटिंग और फोटो फ्रेम के लिए भी बोली 500 रुपये से शुरू होगी। 3डी पेंटिंग, टेक्स्टाइल पेंटिंग, मंदिर की नक्काशी वाले वुडन फ्रेम का बेस प्राइस 4 से 5 हजार रुपये तय हुआ है।

पीएम नरेंद्र मोदी को मिले गिफ्ट्स में सबसे आकर्षक सरदार वल्लभ भाई पटेल की मेटैलिक मूर्ति बताई जा रही है। यह 42 सेंटीमीटर ऊंची है। नीलामी में इसका बेस प्राइस 10 हजार रुपये रखा गया है। वहीं, सरदार वल्लभ भाई पटेल के फोटो फ्रेम का बेस प्राइस 5 हजार रुपये है। शीशे में बंद 7 घोड़ों वाले चांदी के रथ की नीलामी 1 हजार रुपये से शुरू होगी। वहीं, ग्राम उदय से भारत उदय अभियान में 4 घोड़े वाले रथ की बोली 4 हजार रुपये से शुरू होगी।

पीएम मोदी को मिले तोहफों में भगवान राम का धनुष और हनुमान की गदा भी है। धनुष का बेस प्राइस 500 रुपये रखा गया है। वहीं, गदा का बेस प्राइस 2500 रुपये है। गदा की लंबाई 147 सेंटीमीटर है। नीलामी से मिली रकम को लोक कल्याण के कामों में खर्च किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लगातार लोग फेसबुक, ट्विटर और नमो ऐप के माध्यम से तोहफों की मांग करते रहे हैं। लेकिन अब पीएम मोदी को मिली गिफ्ट को अपना बनाने का मौका है। फिलहाल इन सभी तोहफों को दिल्ली की नेशनल गैलरी ऑफ मॉर्डन आर्ट्स में प्रदर्शनी के लिए रखा गया है।

D Ranjan
By D Ranjan , November 28, 2018
Copyright 2018 | All Rights Reserved.